PTI Pic

नई दिल्‍ली – प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सोमवार, इंडिया गेट के पास राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक राष्‍ट्र को समर्पित किया। उन्‍होंने युद्ध स्मारक परिसर के केन्‍द्रीय स्‍तम्‍भ में अमर ज्‍योति प्रज्‍जवलित की। लगभग 26 हजार सशस्‍त्र बल के सैनिकों ने देश की सम्‍प्रभुता और अखंडता की रक्षा के लिए अपना बलिदान दिया है।

राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक, शांति मिशन तथा विद्रोह रोधी अभियानों में भाग लेने वाले और सर्वोच्‍च बलिदान देने वाले सैनिकों की भी याद दिलाता है। परिसर में चार विन्‍यास वृत्‍त शामिल हैं:- अमर चक्र, वीरता चक्र, त्‍याग चक्र और रक्षक चक्र। राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक परिसर में केन्‍द्रीय स्‍तम्‍भ, अमर ज्‍योति तथा सेना, वायुसेना और नौसेना द्वारा लड़े गए बड़े युद्धों को दर्शाते हुए छह कॉस्‍य के भित्‍ती चित्र शामिल किए गए हैं। परम यौद्धा स्‍थल पर परमवीर चक्र से सम्‍मानित 21 सैनिकों की अर्ध-प्रतिमाएं स्‍थापित की गई हैं।

स्‍मारक परिसर शानदार राजपथ और केन्‍द्रीय परिदृश्‍य के वर्तमान योजना और समरूपता के अनुरूप है।

स्‍मारक को राष्‍ट्र को समर्पित करने से पहले श्री मोदी ने पूर्व सैनिकों को सम्‍बोधित करते हुए कहा कि भारतीय सेना, विश्‍व में सबसे वीर सेनाओं में से एक है। उन्‍होंने कहा कि भारतीय सेना ने हमेशा चुनौतियां स्‍वीकार की हैं और कारगर ढंग से जवाब दिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने लम्‍बे समय से राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक बनाने की मांग पूरी की है। श्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार भारतीय सशस्‍त्र बलों को आत्‍मनिर्भर बनाने के लिए लगातार काम कर रही है।

कांग्रेस पर अप्रत्‍यक्ष हमला बोलते हुए श्री मोदी ने आरोप लगाया कि विपक्षी दल राफेल लड़ाकू विमान की खरीद में अड़ंगा लगा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने पूर्व सैनिकों के लिए वन रैंक-वन पेंशन योजना लागू की और अब तक 35 हजार करोड़ रुपये से अधिक राशि पूर्व सैनिकों दी जा चुकी है।

प्रधानमंत्री ने सशस्‍त्र बलों के लिए तीन सुपर स्‍पेसलिटी अस्‍पताल बनाने की भी घोषणा की। उन्‍होंने पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा कि राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक वीर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए तीर्थस्‍थल भी है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here